वर्ष 2011-12 से पूर्व प्राप्त मान्यनता एवं पुरस्कार :

  • वर्ष 2000-2001 के लिए गैर एसएसआई के क्षेत्र में उत्कृष्ट निर्यात के लिए स्टेट गोल्ड पुरस्कार मिला।
  • 21 सितंबर, 2001 को स्टार ट्रेडिंग हाउस की उपाधि मिली।
  • विद्युत मंत्रालय द्वारा 2001 में ऊर्जा संरक्षण के क्षेत्र में र्स्वोीत्कृकष्टा निष्पा2दन के लिए मेरिट का प्रमाणपत्र प्राप्त हुआ।
  • वर्ष 2001-2002 के दौरान गैर एसएसआई क्षेत्र में उत्कृष्ट निर्यात के लिए स्टेट गोल्ड अवार्ड मिला।
  • टीयूवी रेहन्लैं1ड द्वारा IS0 14001: 2004 प्रमाणीकरण।
  • वाणिज्य केनरा चैंबर से वर्ष 2002-2003 के लिए 'निर्यात पुरस्कार' मिला।
  • दिसंबर 1999 में आईएसओ: 9002 प्रमाण पत्र प्राप्तक हुआ तथा इसी दौरान आईएसओ 2008: 9001 को फिर से प्रमाणित किया गया।
  • 31 जनवरी 2003 को पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय की ओर से तेल संरक्षण पुरस्कार प्रदान किया गया।
  • अपने सबसे अच्छे स्वास्थ्य और संरक्षा प्रबंधन प्रणाली के लिए वर्ष 2003 में ब्रिटिश संरक्षा परिषद, ब्रिटेन द्वारा मान्यता प्राप्त पांच सितारा रेटिंग प्राप्तण हुई।
  • वाणिज्य केनरा चैंबर की ओर से वर्ष 2003-2004 के लिए 'निर्यात पुरस्कार' हुआ ।
  • वर्ष 2003-2004 के दौरान राजस्व में उल्लेखनीय योगदान देने के लिए केन्द्रीय उत्पाद शुल्क, मंगलूर आयुक्तालय द्वारा प्रशंसा प्रमाण पत्र प्राप्तम हुआ ।
  • वर्ष 2003-04 के दौरान ऊर्जा की खपत में सर्वश्रेष्ठ निष्पानदन के लिए पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस के तत्वावधान में कार्यरत उच्च प्रौद्योगिकी केंद्र की ओर से एमआरपीएल को जवाहर लाल नेहरू शताब्दी पुरस्कार के प्रथम पुरस्कार से नवाजा गया।
  • वर्ष 2004 और 2008 में पर्यावरण उत्कृष्टता के लिए ग्रीन टेक गोल्ड अवार्ड प्राप्त् हुआ
  • श्रम मंत्रालय, भारत सरकार की ओर से वर्ष 2004 हेतु राष्ट्रीय संरक्षा पुरस्कार प्राप्तं हुआ।
  • उच्च प्रौद्योगिकी और पीसीआरए केंद्र की ओर से तेल संरक्षण पखवाड़े पुरस्कार- वर्ष 2004 में फर्नेस एवं बॉयलर दक्षता हेतु द्वितीय पुरस्कार प्राप्तव हुआ।
  • वर्ष 2004-2005 में क्रूड की सर्वाधिक मात्रा हैंडलिंग करने के लिए नव मंगलूर ट्रस्ट की ओर से उत्कृष्टता का प्रमाण पत्र प्राप्तए हुआ।
  • वर्ष 2004-05 के दौरान ऊर्जा की खपत में सर्वश्रेष्ठ निष्पा दन के लिए पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस के तत्वावधान में कार्यरत उच्च प्रौद्योगिकी केंद्र की ओर से एमआरपीएल को जवाहर लाल नेहरू शताब्दी पुरस्कार के प्रथम पुरस्कार से नवाजा गया।
  • स्वास्थ्य और संरक्षा प्रबंधन प्रणाली के लिए वर्ष 2005 में ग्रीन टेक गोल्ड संरक्षा पुरस्कार प्राप्ता हुआ।
  • गोल्डेन पीकॉक पर्यावरण प्रबंधन पुरस्कार वर्ष 2005 में प्राप्तस हुआ ।
  • 2004-2005 के दौरान समग्र निर्यात में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए स्टेट रजत पुरस्कार प्राप्तु हुआ।
  • सीआईआई द्वारा रिफाइनरी श्रेणी के अंतर्गत वर्ष 2006-07 और 2007- 08 हेतु ऊर्जा प्रबंधन में उत्कृष्ट निष्पाआदन के लिए राष्ट्रीय पुरस्कारों की श्रेणी में 'ऊर्जा में दक्ष यूनिट' का पुरस्कार प्रदान किया गया।।
  • सबसे कम विशिष्ट ऊर्जा खपत के संबंध में कर्नाटक अक्षय ऊर्जा विकास लिमिटेड की ओर से वर्ष 2005-06 और 2006-07 के लिए योग्यता प्रमाणपत्र प्राप्ते हुआ ।
  • पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय के तहत कार्यरत उच्च प्रौद्योगिकी केंद्र (सीएचटी) द्वारा संस्थापित फर्नेस एवं बॉयलर इन्सुलेशन प्रभावोत्पादकता तथा दक्षता हेतु तेल एवं गैस संरक्षण पखवाड़ा पुरस्कार:

    • प्रथम पुरस्कार - OGCF 2010
    • द्वितीय पुरस्कार - OGCF 2008
    • द्वितीय पुरस्कार - OGCF 2006
  • उच्च प्रौद्योगिकी केंद्र (सीएचटी) द्वारा स्थापित भारतीय रिफाइनरियों के बीच ऊर्जा निष्पादन के लिए जवाहर लाल नेहरू शताब्दी पुरस्कारों की श्रेणी में वर्ष 2007-08 और 2009-10 के दौरान द्वितीय पुरस्कार और 2008-09 के दौरान प्रथम पुरस्कार प्राप्त हुआ ।
  • दिनांक 16 सितंबर 2006 को वाणिज्य कर्नाटक चैंबर द्वारा व्यापार उत्कृष्टता पुरस्कार-2006 प्रदान किया गया।
  • श्रम मंत्रालय द्वारा वर्ष 2005-06 हेतु समग्र संरक्षा निष्पापदन हेतु रनरप पुरस्कातर प्रदान किया गया।
  • एमआरपीएल ने एनएससी-केसी संरक्षा अवार्ड अर्जित किया ।
  • राजीव गांधी राष्ट्रीय गुणवत्ता पुरस्कार 2006 के तहत रासायनिक उद्योग के क्षेत्र में बृहत निर्माण उद्योग हेतु एमआरपीएल ने प्रशस्ति प्रमाण पत्र हासिल किया ।
  • प्रतिष्ठित जवाहर लाल नेहरू शताब्दी पुरस्कार 2006 एमआरपीएल के खाते में आया।
  • वर्ष 2005-06 के लिए सर्वश्रेष्ठ बॉयलर पुरस्कार एमआरपीएल को मिला ।
  • वाणिज्य केनरा चैंबर से श्रेष्ठ निर्यातक पुरस्कार एमआरपीएल को मिला ।
  • एमआरपीएल ने वर्ष 2009-10 के दौरान असाधारण रूप से उत्कृिष्ट निष्पा दन किया और कई मोर्चों पर अपने ही पिछले सर्वश्रेष्ठ रिकार्डों को तोड़ते हुए नये कीर्तिमान स्थाापित किए हैं। इनमें से कुछ प्रमुख रिकार्ड नीचे सूचीबद्ध हैं -
  • अपने डिजाइन क्षमता का 129% उच्चतम क्षमता उपयोग करते हुए अपनी नेमप्लेीट क्षमता को 9.69 से 11.82 तक बढ़ाया ।
  • 12.5 एमएमटीपीए परिचालन स्तर पर 72.8% तक का सर्वाधिक आसुत उत्पा दन।
  • सबसे कम ऊर्जा सूचकांक 58.27 एमबीटीयू / BBUNRGF पार करते हुए ऊर्जा की खपत पैटर्न में लगातार सुधार किया तथा अपना पिछला बेहतरीन सूचकांक 59.07 को पार कर दिखाया जिसके लिए इससे पहले, ऊर्जा के निष्पाादन के लिए जवाहर लाल नेहरू पुरस्कार में लगातार चार बार एमआरपीएल को प्रथम पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। एमआरपीएल, अपनी निष्पा्दन प्रवृत्ति में और सुधार प्राप्त कर रहा है। ईंधन की हानि लगातार कम हो रही है जो प्रचालन जटिलता में हुई वृद्धि के चलते विगत 5.03 की तुलना में काफी कम है, जिसकी रेटिंग 6.50% है।
  • पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के अधीन तेल उद्योग संरक्षा निदेशालय (ओआईएसडी) द्वारा भारत की सभी 17 पीएसयू रिफाइनरियों के मूल्यांकन के बाद, एमआरपीएल को लगातार तीन वर्षों (2007, 2008, 2009) के लिए 'सबसे सुरक्षित रिफाइनरी' घोषित किया गया है तथा वर्ष 2008-09 के लिए सुरक्षित रिफाइनरी श्रेणी में ओआईएसडी द्वारा द्वितीय पुरस्कार प्रदान किया।
  • वर्ष 2008-09 हेतु ओएनजीसी द्वारा एमआरपीएल को समझौता ज्ञापन निष्पा दन में 'उत्कृष्ट' दर्जा दिया गया है।
  • बिजनेस टुडे पत्रिका, बीटी 500 2009 संस्कीरण द्वारा अखिल भारतीय स्त र पर प्रति कर्मचारी कारोबार के संदर्भ में मूल्यांककन किया गया तथा कारोबार के दृष्टिकोण से एमआरपीएल को नबंर एक कंपनी घोषित किया गया।
  • राष्ट्री य कार्मिक प्रबंधन, कोलकाता के राष्ट्रीय संस्थान द्वारा आयोजित सर्वश्रेष्ठ मानव संसाधन प्रैक्टिस प्रतियोगिता 2009 के दौरान दिनांक 18-02-2010 को एमआरपीएल को 'योग्यता प्रमाणपत्र' प्राप्तग हुआ।
  • वाणिज्य और उद्योग कर्नाटक चैंबर्स ऑफ फेडरेशन द्वारा जून 2010 में निर्यात उत्कृष्टता पुरस्कार, बेस्टन विनिर्माता निर्यातक, बड़े वर्ग, गोल्ड् पुरस्का1र से एमआरपीएल को सम्मानित किया गया ।
  • एमआरपीएल देश की ऐसी पहली रिफाइनरी है जिसने अक्टूबर-2009 में नवीन खोज और अत्यधिक चिपचिपे कच्चे तेल (बाड़मेर राजस्थाीन) को प्रोसेस करने में सक्षम रही।
  • GOHDS इकाई में सुधार संबंधी कार्यों को नियत समय से 5 महीने पहले ही पूरा पूरा किया गया, मार्च, 2010 की बजाए अगस्त् 2010 के अंत तक, सचिव, पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा दिनांक 30.04.2010 को इसे राष्ट्र को समर्पित किया गया ताकि राष्ट्रीय आवश्यकता यूरो- IV मानदंडों को पूरा किया जा सके।
  • सबसे कम ऋण जोखिम के संबंध में आईसीआरए लिमिटेड द्वारा एमआरपीएल को आईआर एएए रेटिंग प्रदान की गई यह उच्चतम क्रेडिट गुणवत्ता रेटिंग को दर्शाता है ।
  • ऋण बाध्यताओं को पूरा करने के संबंध में क्रिशिल द्वारा एमआरपीएल को आईआर एएए रेटिंग की पुन: पुष्टि की गई है।
  • 2009-10 के दौरान हर मोर्चे पर, रिफाइनरी का निष्पा दन अनुकरणीय रहा है। घरेलू स्तगर पर उत्पादों के सीमित विक्रय और एमआरपीएल के पास पूर्ण विपणन नेटवर्क या किसी विपणन कंपनी के साथ टाईअप नहीं होने के बावजूद भी अन्य स्टैं ड अलोन रिफाइनरियों के मुकाबले अपनी क्षमता का उत्कृष्ट निष्पानदन कर एमआरपीएल ने मार्जिन कैप्चडर कैपासिटी के उपयोग में उत्कृनष्ट्ता सिद्ध की है। ऊर्जा निष्पानदन , पर्यावरण प्रबंधन, संरक्षा निष्पापदन , निर्यात निष्पाददन , लेखा मानकों, औद्योगिक संबंध में उत्कृष्ट निष्पानदन तथा सूचना प्रौद्योगिकी, निवेशक संबंध और सामुदायिक विकास आदि में रिफाइनरी द्वारा की गई नई पहल के मामले में एमआरपीएल ने नई ऊँचाइयां छूई है और इसका सुखद परिणाम हमारे सामने है कि सराहनीय निष्पाेदन के लिए प्रतिष्ठित पेट्रोफेड पुरस्कारर वर्ष 2010 की रिफाइनरी का खिताब हासिल किया।